shiv shayari , best bhole baba shayari 2020

स्वागत है आपका hindi messages में आज आपको इस वेबसाइट में हम shiv shayari देने जा रहें हैं । bhole baba आपकी हर मनोकामना पूर्ण करें । आपका दिन मंगलमय हो । shiv shayari पढ़िये और भोलेनाथ की भक्ति में रंग जाइये । bhole baba shayari को अपने दोस्तों के साथ अवश्य शेयर करियेगा । ताकि हम आपके लिए और भी ऐसे ही bhole baba shayari लेकर आते रहे ।

ज्यादा आपका टाइम खरब नही करते चलिए पढ़ते है shiv shayari

shiv shayari

Bhole baba shayari

|| मुझमें कोई छल नहीं, तेरा कोई कल नहीं
मौत के ही गर्भ में, ज़िंदगी के पास हूँ
अंधकार का आकार हूँ, प्रकाश का मैं प्रकार हूँ
मैं शिव हूँ। मैं शिव हूँ। मैं शिव हूँ ||

|| सारा जगत है प्रभु तेरी शरण में
सर झुकाते हैं शिव तेरे चरण में
हम बनें भोले की चरणों की धूल
आओ शिव जी पर चढ़ायें श्रद्धा के फूल ||

|| निराश नहीं करते बस एक बार सचे मन से भोले शंकर से फ़रियाद करो !!
जय भोले जय भंडारी तेरी है महिमा न्यारी ||

|| मर-मर के तू लाख जन्म ले ले,
हाथ में तेरे राख भी ना आयेगा!
आरंभ तेरा तुझसे है,
अंत में तू महाकाल के पास जायेगा ||

|| शिवरात्रि कुछ इस तरह से,फिर देखना शिव प्रसन्न होते शुभ भावों के सजा लेना फूल, तोड़ फेंकना नफरत के शूल। ॐ नम: शिवाय महाशिवरात्रि की हार्दिक शुभकामनायें ||

shiv shayari

|| हर ओर सत्यम-शिवम-सुन्दरम,
हर हृदय में हर-हर हैं,
जड़ चेतन में अभिव्यक्त सतत
कंकर-कंकर में शंकर हैं.
हैप्पी शिवरात्रि ||

|| सारा जहाँ है जिसकी शरण में
नमन है उस शिव जी के चरण में
बने उस शिवजी के चरणों की धुल
आओ मिल कर चढ़ाये हम श्रद्धा के फूल ||

|| शिव की शक्ति, शिव की भक्ति, ख़ुशी की बहार मिले,
शिवरात्रि के पावन अवसर पर आपको ज़िन्दगी की एक नई अच्छी शुरुवात मिले ||

|| जिंदगी जीना आसान नहीं होता,
बिना कर्मों के कोई महान नहीं होता!
जब तक न पड़े हथौड़े की चोट,
पत्थर भी भगवान नहीं होता ||

|| मेरे जिस्म जान में ‪‎भोलेनाथ‬ नाम तुम्हारा है
आज अगर मैं खुश हूँ तो यह एहसान भी तुम्हारा है
थामा हुआ है हाथ मेरा आपने मुझको मालूम है
मेरे हर पल हर लम्हे में मेरे भोलेनाथ प्यार तुम्हारा है ||

|| बाबा महाकाल के भक्त हैं, हर हाल में मस्त हैं
जिंदगी एक धुँआ हैं, इसलिए हम चिलम मैं मस्त हैं ||

|| कैसे कह दूँ कि मेरी, हर दुआ बेअसर हो गई,
मैं जब-जब रोया तब-तब महादेव को खबर हो गई ||

|| शिव ही सत्य है यही अन्त
शिव ही अनादि है ये ही भागवत
शिव ही ब्रह्मा यही ओंकार
शिव ही भक्ति शिव ही शक्ति
सब मिलके नमन करे शिव को
उनका आशीष सदा हम पर रहे
हैप्पी शिवरात्रि ||

|| ना पूछो मुझसे मेरी पहचान, मैं तो भस्मधारी हूँ,
भस्म से होता जिनका श्रृंगार, मैं उस भोलेनाथ का पुजारी हूँ ||

|| शिव की ज्योति से नूर मिलता है,
सबके दिलों को सुरूर मिलता है;
जो भी जाता है भोले के द्वार,
कुछ न कुछ ज़रूर मिलता है ||

|| संसार का हर कण शिवमय हों
सभी जगह शक्ति का अवतार जागे
धरती, समुद्र और आसमा से फिर
भोलेनाथ की जय जयकार उठे ||

कैसे लगे आपको हमारे यह shiv shayari अच्छे लगे न ।
हमारे पास और भी शायरी है भोलेनाथ की ।
मेरे भोलेनाथ के बारे में मैन और भी शायरियाँ लिखी है ।
नीचे क्लिक कर के आप bhole baba shayari पढ़ सकते हो । और shiv shayari को शेयर करना न भूलियेगा मित्रो ।

bholenath shayari in hindi

mahashivratri shayari

Ask me anything

bholenath mahashivratri shayari in hindi 2020 , best shayari

नमस्कार मित्रो भोलेनाथ के भक्तों के लिए पेश है bholenath mahashivratri shayari in hindi 2020 । हमारी टीम प्रत्येक दिन नए शायरी लिखती है और इस वेबसाइट में पोस्ट करती है । और भी महाशिवरात्रि शायरी पढ़ने के लिए नीचे आपको बटन मिलेंगे जिसमे आपको 2000 से भी ज्यादा bholenath mahashivratri shayari in hindi 2020 मिलेंगे ।

चलिए पढ़ते हैं
bholenath mahashivratri shayari in hindi 2020

bholenath mahashivratri shayari in hindi 2020

bholenath mahashivratri shayari in hindi 2020

|| तेरे दरबार में आकर, ख़ुशी से फूल जाता हूँ..
गम चाहे कैसा भी हो, मै आकर भूल जाता हूँ..
बताने बात जो आऊ, वही मै भूल जाता हूँ..
ख़ुशी इतनी मिलती है कि, मांगना भूल जाता हूँ..
हर हर महादेव ||

|| पूरी दुनिया का महादेव आपने बोझ उठाया
उस नन्दी को शत शत नमन जिसने आप को
अपने ऊपर बैठाया ||

|| भर दें जीवन में खुशियों की बहार
ना रहे जीवन में कोई भी दुख
हर ओर फैल जाए सुख ही सुख
महाशिवरात्रि की शुभकामनाएं ||

|| आज जमा लो भांग का रंग
आपकी जिंदगी बीते खुशियों के संग
भगवान भोले की कृपा बसरे आप पर
जीवन में भर जाए नई उमंग।
महाशिवरात्रि की हार्दिक शुभकामनाएं ||

|| जिनके रोम-रोम में शिव हैं वही विष पिया करते हैं , जमाना उन्हें क्या जलाएगा , जो श्रृंगार ही अंगार से किया करते हैं….जय भोलेनाथ ||

|| जख्म भी भर जायेगे, चेहरे भी बदल जायेगे, तू करना याद महाकाल को तुझे दिल आैर दिमाग मे सिर्फ आैर सिर्फ महाकाल नजर आयेगे… हर हर महादेव ||

|| “ॐ नम शिवाय”महाशिवरात्रि की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं।भगवान भोलेनाथ आप सभी परअपनी कृपा बनाए रखें ||

|| महाकाल का नारा लगा के
दुनिया में हम छा गये
दुश्मन भी छुपकर बोले वो
देखो महाकाल के भक्त आ गये ||

|| भोले की महिमा है अपरम्पार,
करते हैं अपने भक्तों का उद्धार,
शिव की दया आप पर बनी रहे,
और आपके जीवन में खुशियां भरी रहें।
शिवरात्रि की हार्दिक शुभकामनायें ||

|| जख्म भी भर जायेगे, चेहरे भी बदल जायेगे,
तू करना याद महाकाल को तुझे दिल से,
और दिमाग मे सिर्फ और सिर्फ महाकाल नजर आयेगे… हर हर महादेव ||

mahashivratri status 2020

|| भक्ति में है शक्ति बंधू
शक्ति में संसार है
त्रिलोक में है जिसकी चर्चा
उन शिव जी का यह त्योहार है।
महाशिवरात्रि की हार्दिक शुभकामनाएं ||

|| ना पूछो मुझसे मेरी पहचानमैं तो भस्मधारी हूँ,भस्म से होता जिनका श्रृंगार,मैं उस महाकाल का पुजारी हूँ!महाशिवरात्रि की हार्दिक शुभकामनाएं ||

|| महाशिवरात्रि के इस पावन पर्व पर
सफलता का डमरू सदैव आपके
ऊपर बजता रहे !
Happy Mahashivratri ||

कैसे लगे यह सभी bholenath mahashivratri shayari in hindi 2020 । आपको जरूर पसंद आये होंगे ।
और पढ़े – bholenath status in hindi

Mahadev shayari in hindi , best 30+ महादेव शायरी हिंदी में

नमस्कार दोस्तो आज आपके लिए हम लेकर आएं हैं mahadev shayari in hindi आपको यह mahadev shayari in hindi बहोत अच्छा लगेगा क्योंकि ये सभी महादेव शायरी हमारे टीम के द्वारा लिखा गया है ।
पढ़िये महादेव शायरी हिंदी में और आनद लें ।

mahadev shayari in hindi

Mahadev shayari in hindi

|| कोई पेसो का दीवाना हें कोई खूबसूरती का पागलपन ~ और आईने जेसा मेरा दिल हें , लेकिन में तो केवल महादेव का दीवाना हूँ .. जहो डमरू वाले की ||

|| भय का स्रोत है इच्छा।
यदि पाने की इच्छा होगी तो उसे खोने का भय अवश्य होगा..
यदि जीवित रहने की इच्छा होगी तो मृत्यु का भय अवश्य होगा ||

महादेव शायरी

|| मेरे जिस्म जान में ‪‎भोलेनाथ‬
नाम तुम्हारा है,
आज अगर मैं खुश हूँ
तो यह एहसान भी तुम्हारा है!
थामा हुआ है हाथ मेरा
आपने मुझको मालूम है,
मेरे हर पल हर लम्हे में
मेरे #भोलेनाथ
प्यार तुम्हारा है ||

|| हैसियत मेरी छोटी है पर, मन मेरा शिवाला है ।
करम तो मैं करता जाऊँ, क्योंकि साथ मेरे डमरूवाला है ||

|| भोलेनाथ के दरबार में दुनिया बदल जाती है
रहमत से हाथ की लकीर बदल जाती है
लेता है जो भी दिल से भोलेनाथ का नाम
एक पल में उसकी तकदीर बदल जाती है ||

भोलेनाथ शायरी

|| यदि तेज भरो तुम मुझमें
वही महातपा मैं हो जाऊँ
नमः शिवाय का हो गुंजन
हिम शिखरों को दहकाऊं ||

|| ये तेरा नशीब हें , की तुम मुझे अपना दीवाना बना दिया ~ में अपने से दूर था & लेकिन तुमने मुझे अपना दीवाना बना लिया ..जय हो शिवशंकर ||

|| चिलम के धुंये में हम खोते चले गये
बाबा होश में थे मदहोश होते चले गये
जाने क्या बात है भोलेनाथ के नाम में
न चाहते हुये भी उनके होते चले गये ||

|| मौत की गोद में सो रहे हैं
धुंए में हम खो रहे है
महाकाल की भक्ति है सबसे ऊपर
शिव शिव जपते जाग रहे है, सो रहे हैं ||

|| जटाजूट में शरण मिले तो
सुरसरिता की धार बनूँ मैं
तुमसे उद्गम , तुममें संगम
हर प्रवाह को पार करूँ मैं ||

|| अपने जिस्म को इतना न सँवारो
यह तो मिट्टी में ही मिल जाना है
सँवारना है तो अपनी रूह को सँवारो
क्योंकि उस रूह को ही
भोलेनाथ के पास जाना ||

|| तुम लोग मत पूछो मेरी क्या पहचान हें ~ में तो जट्टाधारी का पुजारी हूँ , भस्मधारी से होता हें , सृंगार हम तो महाकाल के सेवक हें ||

अगर आपको यह पोस्ट mahadev shayari in hindi अच्छा लगा हो तो इसे अपने मित्रों के साथ अवश्य शेयर करें ।
महादेव शायरी और भी उपलब्ध है हमारे वेबसाइट में ।